लंकेशअरविंद त्रिवेदी का निधन रामायण के लंकेश का देहांत हो गया |Lankesh Arvind Trivedi Death.Ramayan Ke Lankesh Ka Dehant Ho Gaya.


0
Categories : समाचार

अरविंद त्रिवेदी का निधन रामायण के लंकेश का देहांत हो गया

रामानंद सागर के सागर इंटरप्राइजेज द्वारा बनाई गई रामायण जोकि 80 के दशक में काफी लोकप्रिय धारावाहिक रूप में दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाला एकमात्र धार्मिक कार्यक्रम था इस धारावाहिक में जहां लोकप्रियता के बड़े-बड़े रिकॉर्ड बनाए वहीं इसके पात्र जोकि अपने चरित्र को इस पात्र में पूर्ण रूप से समर्पित कर अभिनय किया अभिनय के कारण सभी पात्र रामायण के साथ ही साथ अजर अमर हो गए सभी ने अपने अपने काम को इस शिद्दत के साथ किया कि सभी को ऐसा प्रतीत होने लगा जैसे कीजिए वास्तव में किसी धारावाहिक के पात्र ना होकर जीवित पात्र हूं जिसमें अरुण गोविल जिन्होंने भगवान श्रीराम का चरित्र निभाया है उनको एवं दीपिका एवं सुनील लहरी जिन्होंने माता सीता और लक्ष्मण का चरित्र निभाया है वह आज भी सभी के लिए मानव पृथ्वी पर मानव रूप में राम लक्ष्मण और सीता के रूप में विराजित हैं ऐसा ही एक पात्र महाराज रावण का जो कि मराठी अभिनेता अरविंद त्रिवेदी द्वारा अभिनीत किया गया को भी लोग वास्तव में रावण ही समझते हैं उन्होंने रावण के चरित्र को इस प्रकार से चरितार्थ किया कि लोगों को मन में ऐसा प्रतीत होने लगा कि वास्तव में रावण इसी प्रकार का होगा जिसके अंदर ज्ञान तक वैभव अभिमान का समावेश कुछ इस तरीके से होगा जिस तरीके से इसको अभिनेता अरविंद त्रिवेदी द्वारा प्रस्तुत किया गया आज भी जब भी कोई अन्य व्यक्तियों द्वारा या प्रोडक्शन द्वारा रामायण बनाई जाती है तब भी सभी के जेहन में केवल अरविंद त्रिवेदी के ही रूप में रावण को देखा जाने की इच्छा रहती है अरविंद त्रिवेदी जो कि एक अच्छे अभिनेता के साथ-साथ एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में भी जाने जाते हैं आज वह हमारे बीच नहीं रहे उनका निधन उनके कांदिवली स्थित निवास पर सुबह के 9:30 बजे हार्ट अटैक आ जाने से हो गया जो कि अभिनय के जगह एक बहुत बड़ी क्षति के रूप में है

अरविंद त्रिवेदी का निधन रामायण के लंकेश का देहांत हो गया
अरविंद त्रिवेदी का निधन रामायण के लंकेश का देहांत हो गया

अरविंद त्रिवेदी का जीवन परिचय

अरविंद त्रिवेदी का जीवन परिचय भी उनके चरित्र की ही तरह चरितार्थ करता है अरविंद त्रिवेदी का जन्म ब्रिटिश काल में गुलामी के समय 8 नवंबर 1938 को इंदौर राज्य ब्रिटिश शासन के काल में में हुआ था

व्यक्तिगत जानकारी

नाम :-अरविंद त्रिवेदी

पिता का नाम:- जेठालाल त्रिवेदी

न्मदिनाक :-8 नंबर 1938 इंदौर राज्य (ब्रिटिश शासन काल)

पत्नी :-नलनी त्रिवेदी

बच्चे :-तीन पुत्रियाँ

निधन :- 6 अक्टूबर 2021 समय सुबह 9:30 बजे 

उपलब्धि:

रामानंद सागर के रामायण से रावण के रूप में घर-घर प्रसिद्ध हुए सर्वाधिक प्रसिद्ध थी रावण के चरित्र से ही मिली

2 के अलावा विक्रम बेताल के रूप रूप में भी प्रसिद्धि मिली

3 देश रे जोया दादा परदेस रे जोया इसके लिए इन्होंने कई दिन एक बहुत अधिक प्रसिद्धि मिली और उन्होंने कई रिकॉर्ड तोड़े और आज भी इसमें दादा के रोल की या अभिनय के लिए इनको जाना जाता है

4 इसके अलावा इनके द्वारा लगभग 300 फिल्मों में अभिनय किया गया और कई धार्मिक पौराणिक धारावाहिकों में भी उनके अभिनय को देखा गया है किंतु इन सब में रामानंद सागर की रामायण में रावण के रोल के द्वारा जो लोकप्रियता इन्हें मिली है वह आज भी कायम है

अरविंद त्रिवेदी का राजनीतिक सफर

अरविंद त्रिवेदी द्वारा सन 1991 में भारतीय जनता पार्टी के द्वारा साबरकांठा से राज्यसभा सांसद निचले सदन के सदस्य के रूप में सदस्यता दी गई जिन्होंने अपना राजनीतिक सफर सन 1991 से लेकर सन 1996 तक इस पद पर रहते हुए किया

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अरविन्द त्रिवेदी के निधन पर शोक व्यक्त किया 

भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने रमानंद सागर की रामायण के रावण यानि अरविन्द त्रिवेदी के निधन पर शोक व्यक्त किया अपने ट्विटर अकाउंट पर अपनी शोक समबेदना व्यक्त की 

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अरविन्द त्रिवेदी के निधन पर शोक व्यक्त किया
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अरविन्द त्रिवेदी के निधन पर शोक व्यक्त किया

अरविन्द त्रिवेदी के बारे मे अधिक जानकारी यह देखे 

अन्य लेख देखे :-

तमिल एक्टर आनंद कन्नन नहीं रहे। Tamil actor Anand Kanan Nahin Rahe in Hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *