30 सितंबर 2021 अंतर्राष्ट्रीय अनुवाद दिवस इतिहास महत्व योगदान।


0
Categories : समाचार

अंतर्राष्ट्रीय अनुवाद दिवस इस वर्ष 30 सितंबर 2021 को मनाया जाएगा अनुवाद जिसका अर्थ होता है किसी अन्य भाषा को अपनी मूल भाषा में व्यक्त करना अनुवाद का उपयोग किसी दो प्रांत या किसी दूर देशों के बीच अपनी अपनी मातृ भाषाओं को एक दूसरे में विवरण सहित प्रस्तुत करने की कला को अनुवाद करना कहते हैं या इंग्लिश में कहें तो ट्रांसलेशन करना ही अनुवाद कहलाता है आज के इस समय में जहां सभी देश अपनी अपनी मातृ भाषाओं के विकास एवं उसके प्रगतिशील करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं वहीं सीमाओं के परे अन्य देशों से अपने संबंधों को और मजबूत करने के लिए अन्य देशों की भाषाओं को अपनी मूल भाषा में अनुवाद कर उनकी समक्ष वार्तालाप एवं व्यापार राजनीतिक संबंध आदि को मजबूत करने के लिए इस अनुवाद का उपयोग किया जाता है अनुवाद के द्वारा ही हम इंग्लिश से हिंदी और इंग्लिश से स्पेनिश जब फ्रांस जर्मनी जैसे देशों की मूल भाषाओं में भी बात कर कर सकते हैं इसी प्रकार जैपनीज चाइनीस आदि भाषाओं को इंग्लिश में ट्रांसलेट कर हम उनके द्वारा कही गई बातों को आसानी से समझ सकते हैं एक देश की भाषा को दूसरे देश की भाषा में कि उसकी मूल भाषा में ट्रांसलेट करने की कला को ही अनुवाद करना कहते हैं

अंतरराष्ट्रीय अनुवाद दिवस का इतिहास।

अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस का इतिहास भी उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि अनुवाद करने वाली भाषा सन 1953 में अंतरराष्ट्रीय IIFT की स्थापना की गई के अंतर्गत जेंट्स 16 में बाइबिल किसी को उसकी मूल भाषा मित्रों में अनुवाद किया था और सन 2017 में अंतरराष्ट्रीय अनुवाद दिवस 30 सितंबर को मनाए जाने हेतु पारित किया प्रस्ताव पारित किया गया उस दिन से लगातार हर वर्ष 30 सितंबर के दिन अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है प्रस्ताव के दौरान लगभग सभी 11 देशों द्वारा समर्थन दिया गया जिनमें अर्जेंटीना आदि कई देश सम्मिलित हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *