इंडियन बाक्सर आशीष चोंधरी |indian boxer ashish chaudhary


0
Categories : नालेज

इंडियन बाक्सर आशीष चोंधरी जो की सुन्दरनगर मंडी हिमाचल के रहने बाले है उन्होंने  अब गोल्ड मेडल के लिए स्पेन के मुक्केबाज से भिड़ेगे इसके पहले आशीष चोंधरी ने टोक्यो ओलंपिक क्वालीफायरने स्पेन मे आयोजित 35 बी बोकसाम अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता मे फाइनल के लिए सुरक्षित जगह कर ली  है  शुक्रवार की  रात हुए सेमीफाइनल मुकाबले में 75 किलोग्राम भार वर्ग में रोमानिया के खिलाड़ी को रोमांचक मुकाबले में 3-2 से हरा दिया।

इंडियन बाक्सर आशीष चोंधरी
  • नाम :- आशीष चौधरी 
  • खेल :- बाक्सर 
  • उपलब्धि 
  • बॉक्सिंग मे रुचि 
  • जब आशीष को कोरोना हुआ 
  • कोच 

इंडियन बाक्सर आशीष चोंधरी indian boxer ashish chaudhary

बोक्साम अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता में आशीष चौधरी के लगातार अच्छे  प्रदर्शन से गोल्ड मेडल हासिल करने की दाबेदारी हो गई हैं विधायक राकेश जंवाल ने भी आशीष चौधरी को शुभकामनाएं दी हैं।

इंडियन बाक्सर आशीष चोंधरी

इंडियन बाक्सर आशीष चोंधरी जो की सुन्दरनगर मंडी हिमाचल के रहने बाले है मेरे परिवार का खेलों से नाता रहा है। मेरे पापा कबड्डी के स्टेट लेवल के खिलाड़ी रहे हैं। जबकि मेरा बड़ा भाई और चाचा का लड़का बॉक्सिंग की ट्रेनिंग करने के लिए जाते थे। मैंने भी उनको देखकर जाना शुरू किया और मुझे यह खेल भा गया। इसके बाद मैंने इसमें ही करियर बनाने की ठानी।

उपलब्धि :-

1 2019 में एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीते |

2 आर्मी सपोर्ट सस्थान पुणे मे सीनिएयर राष्टीय मुक्केबाज प्रतियोगिता मे कांस्य पदक अपने नाम किया |

3 यूक्रेन मे हुए 21 बी इंटरनेशनल बकसींग प्रतियोगिता ,रशिया इंटरनेशनल बकसींग प्रतियोगिता रौंद रॉबिन टूनामेन्ट आदि |

4 हाल मे हि बुल्गारिया मे 70 वे स्ट्रे जा कप मे भी देश का प्रतिनिधित्व कर चुके है |

टोक्यो में वे मिडिल वेट कैटेगरी में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे

बकसिग मे रुचि :-

 मेरे परिवार का खेलों से नाता रहा है। मेरे पापा कबड्डी के स्टेट लेवल के खिलाड़ी रहे हैं। जबकि मेरा बड़ा भाई और चाचा का लड़का बॉक्सिंग की ट्रेनिंग करने के लिए जाते थे। मैंने भी उनको देखकर जाना शुरू किया और मुझे यह खेल भा गया। इसके बाद मैंने इसमें ही करियर बनाने की ठानी। पिता का पिछले साल बीमारी की वजह से निधन हो गया था। आशीष के पिता चाहते थे कि वे ओलिंपिक मेडल जीतें।इसलिए मेरा सपना है की मे बकसिग मे गोल्ड मेडल जीतकर अपने पिता को समर्पित करू

जब आशीष चोंधरी कोरोना संक्रमित हुए

इंडियन बाक्सर आशीष चोंधरी को ओलिंपिक के कुछ महीने पहले आशीष अपने देश से बाहर ईटली पोलैंड आदि देश टूनामेन्ट खेलने के लिए गए है जहा पर वह कोरोना से संक्रमित हुए वहा पर करीब 1 महिना रहा ओर वही छत पर प्रेक्टिस की ओर साथ की अपने को फिट रखने के लिए लिए निरंतर वव्यायाम किया ओर अब मे पूरी तरह से ठीक होकर ओलंपिक मे खेलने का सपना पूरा हुआ |

आशीष चोंधरी के कोच :-मंडी जिले के डी एस ओ नरेश कुमार है

ओर अधिक जानने के लिए यह क्लिक करे 

अन्य देखे ::-

मनिका बत्रा जीवन परिचय 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *